.

सर्च
×

साइन अप

Use your Facebook account for quick registration

OR

Create a Shvoong account from scratch

Already a Member? साइन इन!
×

साइन इन

Sign in using your Facebook account

OR

Not a Member? साइन अप!
×

साइन अप

Use your Facebook account for quick registration

OR

साइन इन

Sign in using your Facebook account

 

अष्टांग हृदयम सारांश

अष्टांग हृदयम सारांश

Results 1 - 4 का 4

 

अष्टांग हृदयम!! दिल के रोगी की बीमारियो के इलाज !!

(6 समीक्षा)
लेखक : BAGPAT   Summary: NeerajSood
दोस्तो अमेरिका की बड़ी बड़ी कंपनिया जो दवाइया भारत मे बेच रही है ! वो अमेरिका मे 20 -20 साल से बंद है ! आपको जो अमेरिका की सबसे खतरनाक दवा दी जा रही है ! वो आज कल दिल के रोगी को दी जा रही है ...
Read Summary
प्रकाशन तिथि: 05 जनवरी 2013 विजिट्स: 340 शब्द : 900

जानिए अष्टांग योग को

इसी योग का सर्वाधिक प्रचलन और महत्व है। इसी योग को हम अष्टांग योग योग के नाम से जानते हैं। अष्टांग योग अर्थात योग के आठ अंग। दरअसल पतंजल‍ि ने योग की समस्त विद्याओं को आठ अंगों में श्रेणीबद्ध कर दिया.
Read Review
प्रकाशन तिथि: 17 सितम्बर 2011 विजिट्स: 283 शब्द : 900

योग का कौन-सा स्टाइल सबसे अधिक सूट करेगा

(2 समीक्षा)
Read Review
प्रकाशन तिथि: 10 फरवरी 2012 विजिट्स: 143 शब्द : 900

ब्रह्मचर्य का मतलब क्या होता है?

(24 समीक्षा)
(1 comments)
पानी से भरे गिलास में अगर और पानी भरने की कोशिश करेंगे तो वह छलक जाएगा। उसी तरह अगर कोई आदमी मैथुन या हस्तमैथुन नहीं करता तो उसका वीर्य स्वप्न मैथुन या निद्रा मैथुन के जरिए बाहर आ ही जाएगा।.
Read Review
प्रकाशन तिथि: 15 सितम्बर 2011 विजिट्स: 1124 शब्द : 900


अपनी सर्च को सुधारें
सर्च
           

.